शरद अरविंद बोबडे 47 वें चीफ जस्टिस बने भारत के, राष्ट्रपति ने दिलाई शपथ

ख़बर शेयर करें
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सोमवार को सुप्रीम कोर्ट के जज शरद अरविंद बोबडे को 47वें चीफ जस्टिस के रूप में शपथ दिलाई।

47th chief justice Sharad Arvind Bobde
47 वें चीफ जस्टिस SR बोबडे



इसके पहले 46 वें चीफ जस्टिस (मुख्य न्यायाधीश) कौन थे?


आपको बता दें कि इसके पहले रंजन गोगोई चीफ जस्टिस थे। अब उनकी जगह में शरद अरविंद बोबडे आये हैं। जो कि  23 अप्रैल 2021 तक इस पद में बने रहेंगे।

जस्टिस शरद अरविंद बोबडे के बारे में कुछ तथ्य


  • जस्टिस बोबडे 2013 में सुप्रीम कोर्ट के जज बने थे।
  • इनकी उम्र 63 साल है।
  • ये महाराष्ट्र से जज की इतनी उच्च पोजीशन में पहुंचने वाले चौथे व्यक्ति हैं। इसके पहले जस्टिस प्रहलाद (7th), जस्टिस मोहम्मद हिदायतुल्लाह (11th), जस्टिस Y V चंद्रचूड़ (16th) थे।
  • पिछले 2 सालों से जस्टिस बोबडे सुप्रीम कोर्ट के 3 ऐतिहासिक फैसलों का हिस्सा थे। नवम्बर 9, को अयोध्या मामले में भी ये शामिल थे।
  • 2015 में तीन सदस्यीय पीठ में शामिल थे। जिसमें कहा गया कि भारत के किसी नागरिक को आधार संख्या के मूल अभाव में मूल और सरकारी सेवाओं से वंचित नही किया जा सकता।
  • इसके अलावा पेपर लीक मामले में भी समिति बनाई व सीजेआई गोगोई भी क्लीन चिट इन्होंने दी थी।
Facebook Comments
ये भी पढ़ें -  जाते जाते अपने परिवार के लिए ये संपत्ति छोड़ गए ऋषि कपूर

Leave a Comment